प्रेम के चार स्तंभ

प्रेम का यान चार इंजनों पर उड़ता है – पारस्परिक देखभाल एवं सम्मान, निर्भरता, विश्वसनीयता और त्याग।

मुझे प्राप्त होने वाले ई-मेल संदेशों में एक बड़ी संख्या अस्थिर संबंधों के विषय में होती हैं। कभी कभी संबंध से जुड़े दोनों व्यक्ति अपनी इस समस्या को सुलझाना चाहते हैं, परंतु अनेक बार एक ही व्यक्ति समस्या को सुलझाना चाहता है। और कईं बार यह एक भ्रम की स्थिति होती है। वे मुझे लिखते हैं कि वे भ्रमित हैं और यह नहीं जानते कि दूसरा व्यक्ति उनसे वास्तव में प्रेम करता है या फिर मात्र उनकी चिंता कर रहा है। वे मुझसे पूछते हैं कि ऐसा कोई संकेत है,…read more