If Truth Be Told — A Monk’s Memoir

यदि सत्य कहा जाए (If Truth Be Told — A Monk’s Memoir) मेरा संस्मरण है जो हार्पर कॉलिन्स पब्लिशर द्वारा नवंबर २०१४ में प्रकाशित किया गया। यह मेरे जीवन की अब तक की यात्रा का कथन है।

यदि आप मुझसे पूछें तो हम एक अद्भुत प्रजाति हैं। अद्भुत इसलिए क्योंकि लगभग सदैव हमारे पास जो है हम उससे कुछ भिन्न की अपेक्षा रखते हैं। हमारे स्वार्थी होने की क्षमता हमारे निस्स्वार्थ होने की क्षमता जैसी ही अतिविशाल है। मैं यह बात इसलिए इतने विश्वास के साथ कह सकता हूँ क्योंकि मैंने अपने आप को एक दयालु व्यक्ति के रूप में देखा था और कभी नहीं सोचा कि मैं अपने प्रियजनों को कभी दर्द दे पाऊँगा। परंतु अपनी इच्छाओं के दबाव में आकर मैंने सहजता से उन प्रियजनों…read more