ॐ स्वामी

आपके जीवन का उद्देश्य

यदि आप इस ब्लॉग पर केवल एक लेख पढ़ने के लिए कहें, तो वह यह लेख है।

यह कदाचित पिछले आठ वर्षों में लिखा गया मेरा सबसे महत्वपूर्ण लेख है। आप इसे एक घोषणा, प्रकाशन या केवल एक और लेखन के रूप में देख सकते हैं। किसी भी प्रकार से देखें, इसमें आपके लिए कुछ महत्वपूर्ण है। इन सभी वर्षों में, मैंने हज़ारों व्यक्तियों से भेंट की है। न केवल सभाओं या समूहों में, परंतु व्यक्तिगत रूप में भी। पुस्तकें (और इस ब्लॉग पर लेख) लिखने के अतिरिक्त, मैंने प्रमुख रूप से यही किया है। जीवन के सभी क्षेत्रों के व्यक्तियों से मेरी भेंट हुई। यदि प्रत्येक…read more

क्या है वह जो मात्र प्रेम कर सकता है?

यह एक सुंदर सत्य कथा है, जो आपको प्रेम के विषय में सोचने पर विवश कर देगी ...

आस्था की ही भाँति प्रेम भी तर्क या बुद्धि से परे है। यह वह चीज़ है जो हमें विकसित होने, रूपांतरित होने और असम्भव को सम्भव बनाने हेतु प्रेरित करती है। मुझे इस बात का  तो निश्चय नहीं है कि प्रेम  पर्वतों को चलायमान कर सकता है, लेकिन यह विश्वास अवश्य है कि यदि प्रेम की धारा आपके हृदय से निकल रही है तो आप सारे ब्रह्मांड को हिला सकते हैं। कठोपनिषद में नचिकेता और महाभारत में सावित्री की कहानी मनुष्य की इस क्षमता की  यदि साक्षी नहीं है तो…read more